<<

 

>>

खास खबरें

महत्वपूर्ण खबरें

पुस्तक चर्चा

आवरण कथा

दृश्य-परिदृश्य

उपलब्धि

विभागीय गतिविधियाँ

विशेष

प्रशिक्षण

योजन

कानून-चर्चा

खेती-किसान

पंचायत गजट

आपकी बात

पुराने अंक

सम्पादकीय परिवार

 

 

 

पंचायत  गजट

मध्यप्रदेश शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा प्रदेश की ग्राम पंचायतों में कार्यरत ग्राम पंचायत सचिवों के लिए नवीन स्थानांतरण नीति बनाई गई है। नवीन स्थानान्तरण नीति के तहत ग्राम पंचायत सचिवों के शत-प्रतिशत स्थानान्तरण 1 अगस्त 2014 से 20 अगस्त 2014 तक की अवधि में किये जायेंगे। राज्य शासन द्वारा इस संबंध में जारी आदेश को मध्यप्रदेश पंचायिका में यथावत प्रकाशति किया जा रहा है।

मध्यप्रदेश शासन

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग

मंत्रालय, वल्लभ भवन, भोपाल

// आदेश //

भोपाल, दिनांक 24.07.2014

क्रमांक/एफ-1-6/2011/22/पं.-1 - राज्य शासन द्वारा जारी ग्राम पंचायत सचिव की स्थानान्तरण नीति 18 जून 2013 एतद् द्वारा अधिक्रमित करते हुए नवीन स्थानान्तरण नीति निम्नानुसार जारी की जाती है :-

1.         जिले में कार्यरत ग्राम पंचायत सचिवों के शत-प्रतिशत स्थानान्तरण प्राशसनिक आधार पर 01 अगस्त 2014 से 20 अगस्त 2014 की अवधि में किए जाएंगे। किन्तु पैतृक ग्राम पंचायत में किसी सचिव को पदस्थ नहीं किया जाएगा।

2.         ग्राम पंचायत सचिव का स्थानान्तरण कार्यरत जनपद पंचायत के भीतर ही निकटस्थ ग्राम पंचायत में किया जाएगा।

3.         स्थानान्तरण आदेश जिला पंचायत की सामान्य प्राशसन समिति के अनुमोदन उपरांत मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा जारी किए जाएंगे।

4.         यदि पति-पत्नी दोनों ग्राम पंचायत सचिव हैं तो दोनों को आस-पास नजदीकी ग्राम पंचायतों में पदस्थ किया जाए।

5.         निशक्त, विधवा/परित्यक्ता और गंभीर बीमारी जैसे :- कैंसर, हृदय रोगी, किडनी आदि से पीड़ित व्यक्ति को गृह निवास की सीमा से जुड़ी ग्राम पंचायत में स्थानान्तरित किया जाए।

6.         जिले के भीतर एक जनपद पंचायत से अन्य जनपद पंचायत में दोनों जनपद पंचायत की सहमति से ग्राम पंचायत सचिव का स्थानान्तरण किया जा सकेगा।

7.         यदि किसी सचिव का रितेदार ग्राम पंचायत का सरपंच या पंच हो जाता है तो सचिव का स्थानान्तरण अन्य ग्राम पंचायत में अनिवार्य रूप से कर दिया जाए।

8.         ग्राम पंचायत सचिव के स्थानान्तरण/निरस्तीकरण/संशोधन आदेश प्राशसकीय हित में विभागीय मंत्री के अनुमोदन उपरांत आयुक्त, पंचायत राज म.प्र. द्वारा कभी भी किए जा सकेंगे।

9.         स्थानान्तरण आदेश उपरांत संबंधित सचिव, ग्राम पंचायत के सहायक सचिव अर्थात् ग्राम रोजगार सहायक को प्रभार सौंपकर तीन दिवस में अनिवार्य रूप से भारमुक्त होंगे तथा नवीन पदस्थापना वाली ग्राम पंचायत में अपनी उपस्थिति लिखित में देंगे और एक प्रति संबंधित जनपद पंचायत को सरपंच के माध्यम से भेजेंगे।

 

Top

     
Copyright 2009, Madhya Pradesh Panchayika, All Rights Reserved   वेबसाइट : आकल्पन, संधारण एवं अद्यतन 'वेबसेल' मध्यप्रदेश माध्यम द्वारा